मोदी सरकार दे रही है 3 लाख तक का लोन सिर्फ 5 % के ब्याज पर, यहां देखें पूरी जानकारी

PM Vishwakarma Scheme – प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना

PM Vishwakarma Scheme – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा छोटे कारोबारियों को व्यवसाय के लिये 17 सितंबर को एक इस स्किम की शुरुआत की गई है। इसका नाम प्रधानमंत्री विश्कर्मा योजना रखा गया है। यह योजना कारोबारियों के लिये बहुत ही उपयोगी साबित होने वाली है।

PM Vishwakarma Scheme - प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना
PM Vishwakarma Scheme – प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना

आज हम यहां जानते है इस योजना से आपको कैसे लाभ मिलेगा और आपके लिए यह कितनी उपयोगी साबित होने वाली है।इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी कारीगरों और शिल्पकारों को कर्ज देकर अपने कारोबार के लिए प्रोत्साहित करने का काम किया जायेगा।PM Vishwakarma Scheme योजना से जुडी सभी प्रकार की जानकारी आप यहां।

प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना क्या है?

इस योजना में कारीगरों और शिल्पकारों की पहचान के लिये पीएम विश्वकर्मा प्रमाण पत्र और आईडी कार्ड का इस्तेमाल किया जायेगा। इस योजना का लाभ लेने से पहले आवेदकों को एक सप्ताह की कौशल ट्रेनिंग और ट्रेनिंग के दौरान 500 रु प्रतिदिन के हिसाब से पैसा भी दिया जायेगा।

यह भी देखें – अब IPhone 14 Plus खरीदें आधे दाम में

बुनियादी कौशल प्रशिक्षण की शुरुआत में ई-वाउचर के रूप में 15,000 रुपये तक का टूलकिट प्रोत्साहन दिया जाएगा।इस योजना से अपना छोटा कौशल व्यवसाय करने वालों को जबरदस्त फायदा मिलेगा और देश में आत्मनिर्भरता बढ़ने के साथ रोजगार भी बढ़ेगा। विश्वकर्मा योजना के तहत सरकार 13,000 करोड़ रुपये का भारी-भरकम खर्च करेगी, जिसके जरिए पारंपरिक कौशल वाले लोगों को मदद मिलेगी।

बिना गारंटी के सिर्फ 5 % के ब्याज पर मिलेगा लोन

इस योजना के तहत बिना कुछ गिरवी रखे 3 लाख रुपये तक का लोन दिया जाएगा। ये रकम दो किस्तों में दी जाएगी। इसके तहत 1 लाख और 2 लाख रुपये के दो किश्तों में क्रमशः 18 महीने और 30 महीने की अवधि के लिए 5 प्रतिशत ब्याज दर पर लोन दिया जाएगा।

PM Vishwakarma Scheme का फायदा किन लोगो को मिलेगा?

यह योजना 18 व्यवसायों से जुड़े कारीगरों के लिए है। इसमें बढ़ई, नाव निर्माता, हथियार निर्माता, लोहार, हथौड़ा और टूल किट निर्माता, ताला बनाने वाला, सोनार, कुम्हार, मूर्तिकार (मूर्तिकार, पत्थर तराशने वाला), पत्थर तोड़ने वाला, मोची/जूता कारीगर, राजमिस्त्री शामिल हैं।

इसके लिए टोकरी/चटाई/झाड़ू निर्माता/कॉयर बुनकर, गुड़िया और खिलौना निर्माता (पारंपरिक), नाई, माला बनाने वाला, धोबी, दर्जी और मछली पकड़ने का जाल निर्माण में लगे कारीगरों और शिल्पकारों को भी शामिल किया गया है।

PM Vishwakarma Scheme की विस्तृत जानकारी कैसे प्राप्त करें?

अधिक जानकारी के लिए pmvishwakarma.gov.in पर विजिट कर सकते हैं। योजना के संबंधित किसी भी जानकारी के लिए, कारीगर और शिल्पकार 18002677777 पर कॉल कर सकते हैं या [email protected] पर ईमेल कर सकते हैं।


अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगे तो आपसे निवेदन है की इसे शेयर जरूर करें, ताकि आपकेल लिये हमारी टीम और अधिक उपयोगी जानकारी आप तक पंहुचा सकें। धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *